इस साल सर्दी से खुद के स्किन और सेहत को कष्ट न पहुँचने दें। जब आपके पास ऐलोवेरा है तो आप ब्यूटी और हेल्थ का ऐसे रखें ख्याल। यहां तक एक्सपर्ट भी ये कहते हैं कि ऐलोवेरा रूखी त्वचा से लेकर सर्दी-खांसी, बदहजमी जैसे सारे समस्याओं को समाधान कर सकता हैं। चलिये जानते हैं कि कैसे ये काम करता है।

aloe vera

अर्थराइटिस

सर्दी के दिनों में अर्थराइटिस के दर्द को झेल रहे हैं? ऐलोवेरा का एन्टी-इन्फ्लैमटोरी गुण दर्द और सूजन को कम करके जोड़ो के दर्द से राहत दिलाता है। इसके लिए हर दूसरे दिन ऐलोवेरा जूस पियें।

फटे हुए क्यूटिकल

ज्यादा ठंड होने के कारण या मॉश्चराइज़र के कमी के कारण क्यूटिकल क्रैक्ट होते हैं। इसके लिए आप ऐलोवेरा, शहद और ऑलिव ऑयल का मिश्रण बनाकर फटी हुई त्वचा पर लगायें। ऐलोवेरा सिर्फ मॉश्चराइज़ नहीं करता वरन् इंफेक्शन से भी बचाता है।

सर्दी-खांसी

ऐलोवेरा का एन्टीबैक्टिरीयल और एन्टीवायरल गुण श्वास संबंधी इंफेक्शन को बढ़ने से रोकते हैं। समान मात्रा में ऐलोवेरा जेल के साथ शहद मिलाकर लेने से साइनसाइटिस और गले के दर्द से राहत मिलती है।

cold

इम्युनिटी

आपको ये जानकर आश्चर्य होगा कि ऐलोवेरा में विटामिन और मिनरल होता है जो इम्युनिटी को बढ़ाने में बहुत मदद करता है। इसके एन्टीबैक्टिरीयल यौगिक के कारण ये शरीर के इंफेक्शन से लड़ने की क्षमता को बढ़ाने में मदद करता है।

रूखी त्वचा

अक्सर रूखी त्वचा होने के कारण खुजली ज्यादा होने लगती है। आप खुजली वाले जगह पर ऐलोवेरा जेल को लगा सकते हैं। या ऐलोवेरा जेल बेस्ड मॉश्चराइज़र का भी इस्तेमाल भी कर सकते हैं।

dry skin

ड्राई स्कैल्प

ऐलोवेरा जेल का एन्टीबैक्टिरीयल गुण इस मामले बहुत असरदार रूप से काम करता है। 15 मिनट तक इस जेल को स्कैल्प पर लगाकर रखने के बाद माइल्ड शैंपू से धो लें।

बदहजमी

क्या आप जानते हैं कि सर्दी के दिनों में शरीर में पित्त का स्तर बढ़ जाता है जिसके कारण एसिडिटी और बदहजमी की समस्या ज्यादा होती है। इसके लिए आप रोज सुबह खाली पेट ऐलोवेरा का रस पियें इससे शरीर से टॉक्सिन्स निकल जायेंगे और हजम शक्ति भी बढ़ती है।

acidity-home-remedies

रूखे और घुंघराले बाल

सर्दी के दिनों में ऐसे बाल को मैनेज करना बहुत मुश्किल होता है। ऐलोवेरा, दही और नारियल तेल का पैक बनाकर लगाने से बालों में जान आ जाता है।

Loading...

Leave a Reply