यह एक बड़ा ही खूबसूरत फूल है जिसे महिलाएं गजरे में भी लगाती हैं। इस फूल की विशेषता यहीं नहीं खत्म होती है, इसमें और कौन कौन से गुण हैं, आइये जानते हैं उसके बारे में भी-

harsingar

दाद

हरसिंगार की पत्तियों को पीसकर लगाने से `दाद´ ठीक हो जाता है।

बालों का झड़ना

हरसिंगार के बीज को पानी के साथ पीसकर सिर के गंजेपन की जगह लगाने से सिर में नये बाल आना शुरू हो जाते हैं। इसके साथ ही यह रूसी और सफेद बालों को भी ठीक करता है।

hair fall

डेंगू का दर्द

कई बार डेंगू जाने के बाद भी शरीर में दर्द बना रहता है। ऐसे केस में आप हरसिंगार के  पत्ते का काढ़ा इस्तेमाल  करें, 10-15 दिन मे ठीक हो जायेगा।

दिमाग ठंडा रखे

इसके फूल ठण्डे दिमाग वालों को शक्ति देता है और गर्मी को कम करता है।

आर्थराइटिस या जोड़ो का दर्द

इस पेड़ के छह सात पत्ते तोड़ के पत्थर में पीस के चटनी बनाइये और एक ग्लास पानी में इतना गरम करें की पानी आधा हो जाये। फिर इसको ठंडा करके रोज सुबह खाली पेट पिलाइये। जिसको भी पुराना आर्थराइटिस हो या जोड़ो का दर्द हो, यह उन सबके लिए अमृत की तरह काम करेगा। इसके साथ और कोई दवा ना दें।

arthritiss

तेल से करें मसाज

इसके तेल से मसाज करने पर त्वचा में लचीलापन आता है और त्वचा की नमी हमेशा बरकरार रहती है।

बवासीर रोग

हरसिंगार बवासीर रोग के निदान के लिए रामबाण औषधी है। इसके एक बीज का सेवन प्रतिदिन किया जाये तो बवासीर रोग ठीक हो जाता है। इसके बीज का लेप बनाकर गुदा पर लगाने से बवासीर के रोगी को राहत मिलती है।

सूखी खाँसी ठीक हो जाती है

इसकी पत्तियों को पीस कर शहद में मिलाकर सेवन करने से सूखी खाँसी ठीक हो जाती है। आप चाहें तो इसकी दो पत्तियां चाय के साथ उबाल कर पी सकते हैं।

Cough profile

बुखार खत्म  करे

इसी पत्ते को पीसकर गर्म पानी में डाल कर पीने से बुखार ठीक हो जाता है। चिकनगुनिया का बुखार, डेंगू फीवर, इंसेफेलाइटिस, ब्रेन मलेरिया, यह सभी ठीक हो जाते हैं।

कैसे करें इसका प्रयोग और मात्रा

इसका प्रयोग व्यक्ति की उम्र, स्वास्थ्य और अन्य चीज़ों को देख कर करना चाहिये। हमेशा दिमाग में रखें कि ये जरुरी नहीं है कि प्राकृतिक चीज़ें स्वास्थ्य के लिये हमेशा सही ही हों। इसका प्रयोग अपनी जरुरत अनुसार करें।

Loading...

Leave a Reply