हम आपके लिए एक ऐसा उपाय लेकर आये है जिसका प्रयोग करके आप अपने शरीर के हर रोग से छुटकारा पा सकते है सिर्फ आपको जानना इतना है की आपको इसका प्रयोग करना कैसे और किस समय दोस्तों ये फल कोई और नहीं बल्कि अमरुद है इसके फायदों के बारे में कोण नहीं जनता है यह शरीर के हर रोग का इलाज करता है आप इसका प्रयोग शरीर के किसी भी रोग को खत्म करने के लिए कर सकते है चाहे वो कितना ही छोटा या फिर बड़े से बड़ा रोग ही क्यों ना हो

रोजाना अमरूद खाने से इन्डायजेशन, गैस्ट्रिक प्रॉब्लम या कॉन्स्टिपेशन से आराम से ठीक हो जाता है जिन लोगों को भूख नहीं लगती या जिनका लीवर खराब रहता है उनके लिए भी भुना हुआ अमरूद लाभकारी है. सुस्‍ती के लिए, तेज दिमाग के लिए, दिल के रोगों से बचने के लिए भी अमरूद का सेवन किया जा सकता है

1. विटामिन सी का अच्छा स्रोत

अमरुद में संतरे की तुलना में 4 गुना ज्यादा विटामिन सी होता हैं। विटामिन सी एक अच्छे एंटीऑक्सीडेंट की तरह काम करता हैं, जिससे शरीर की रोग-प्रतिरोधक क्षमता में बढ़ोतरी होती हैं। इससे कैंसर जैसी जानलेवा बीमारी से भी बचने में मदद मिलती हैं।

2. रक्त संचार बेहतर बनाये

अमरुद विटामिन बी का भी बढ़िया सोर्स हैं। इसमें नियासिन होता हैं जो ब्लड सर्कुलेशन को सही बनाये रखता हैं। रक्तसंचार के बेहतर होने से शरीर के सभी अंगों के साथ-साथ ब्रेन भी एक्टिव बन जाता हैं और सुचारू रूप से अपना काम करता हैं। अमरुद में pyridoxine नामक तत्व होता हैं जो दिमाग और नसों को रिलैक्स करता हैं।

और अधिक जानकारी के लिए मोबाइल एप्प भी डाउनलोड करें और निशुल्क जानकारी पाएं वो भी ऑफलाइन डाउनलोड के लिए यंहा क्लिक करें

3. स्किन को चमकदार बनाये

अगर हेल्दी और अच्छी स्किन पाना चाहते हैं तो अमरुद जरूर खाए। क्योंकि अमरुद में विटामिन सी, एंटीऑक्सीडेंट और कैरोटीन पाए जाते हैं जो स्किन के लिए बहुत ही जरूरी तत्व हैं। इसके अलावा इसमें पोटैशियम भी होता है जो स्किन की चमक को बढ़ाता हैं, साथ ही कील-मुहासों से छुटकारा दिलाता हैं। स्किन को चमकदार बनाने वाले कॉस्मेटिक प्रोडक्ट्स के निर्माण में अमरुद के गुदे का प्रयोग किया जाता हैं।

4. मूंह के छालों का उपचार

मूंह में छाले यानि अल्सर हो गये है तो अमरुद की ताज़ी कोमल-कोमल नयी पत्तियों को चबाना चाहिए। इससे मूंह के छाले ठीक होने लगते हैं। साथ ही आप चाहे तो अमरुद की इन कोमल पत्तियों में कत्था मिला कर पान की तरह चबाये, यह मूंह के छालों को दूर करने का रामबाण तरीका हैं।

5. डायबिटीज में फायदेमंद

शुगर के मरीज़ को अमरुद जरूर खाना चाहिए। क्योंकि इसमें फाइबर प्रचुर मात्रा में पाया जाता हैं जो ब्लड शुगर लेवल को कम करता हैं। यह शुगर को डाइजेस्ट करके इन्सुलिन की मात्रा को बढ़ाता हैं। टाइप 2 डायबिटीज के रोगी को दिन भर में कम से कम 2 बार अमरुद खाने की सलाह दी जाती हैं।

6. कब्ज़ दूर करे

अमरुद बॉडी के मेटाबोलिज्म रेट को बैलेंस में रखता हैं। इसे खाने से कब्ज़ जैसी समस्या दूर होने लगती हैं। इसके लिए सुबह-सुबह अमरुद खाना चाहिए। इसके अलावा अगर पेट में गैस बनती हो तो दोपहर का खाना खाने के बाद अमरुद जरूर खाए। पेट के छालों से परेशान व्यक्ति को भूल कर भी अमरूद के बीज नहीं खाने चाहिए, वरना उसको नुकसान हो सकता हैं।

7. पोटैशियम और सोडियम को बैलेंस करे

अमरुद में पोटैशियम ज्यादा मात्रा में होता हैं जो शरीर में सोडियम के असर को कम करने का काम करता हैं। जिससे ब्लड प्रेशर कंट्रोल में रहता हैं और कोलेस्ट्रॉल को भी कम करने में मदद मिलती हैं।

8. मोटापा कम करे

मोटापे से परेशान व्यक्ति को डाइट में विटामिन्स, प्रोटीन और फाइबर से भरे आहार और फल खाने की सलाह दी जाती हैं। इसलिए वजन कम करने के लिए अमरुद खाना अच्छा उपाय हैं। इसमें विटामिन्स, प्रोटीन, मिनरल्स और फाइबर पाए जाते हैं, साथ ही इसमें कोलेस्ट्रॉल और कार्बोहाइड्रेट की मात्रा कम होती हैं। जिससे वजन को कम करने में मदद मिलती हैं। अमरुद खाने से यह आसानी से पच जाता हैं। वजन कम करने के लिए हमेशा कच्चे अमरुद को खाना चाहिए।

9. बॉडी को फिट रखे

अमरुद में ऐसे पौष्टिक तत्व पाए जाते हैं जो शरीर को चुस्त एवं दुरुस्त बनाये रखते हैं। लेकिन शर्त बस इतनी हैं की अमरुद को सही समय पर ही खाना पड़ेगा। रात में अमरुद नहीं खाना चाहिए, क्योंकि इससे खांसी की शिकायत हो सकती हैं।

10. थाइरोइड के लिए

अमरुद में कॉपर पाया जाता है जो थाइरोइड को कण्ट्रोल करता हैं। थाइरोइड ग्लैंड सबसे महत्वपूर्ण ग्लैंड हैं जो कई तरह के हॉर्मोन्स और ऑर्गन सिस्टम को कण्ट्रोल करता हैं। इस ग्लैंड में अगर कोई गड़बड़ी आ जाये तो पुरे शरीर की कार्यप्रणाली पर बुरा असर पड़ता हैं। अमरुद में आयोडीन होता है जो बॉडी में हॉर्मोन्स के बैलेंस को बनाये रखता हैं।

11. आँखों के लिए फायदेमंद

आँखों को स्वस्थ्य बनाये रखने के लिए विटामिन ए और रेटोनोल्स की जरूरत पड़ती हैं। अमरुद में यह दोनों तत्व अच्छी मात्रा में पाए जाते हैं। जिन लोगो को गाजर खाना अच्छा नहीं लगता हैं, वे लोग अमरुद को खा कर आँखों की रोशनी और चमक को बढ़ा सकते हैं। साथ ही अमरुद के सेवन से आँखों में होने वाली कई प्रकार की प्रॉब्लम्स जैसे की मोतियाबिंद, रतोंधी, आँखों में सूखापन और सूजन आदि को दूर करने में भी आसानी होती हैं।

13. नशा कम करे

भांग का नशा ज्यादा चढ़ गया हैं तो रोगी को अमरुद के पत्तियों का रस पिलाना चाहिए। इसके अलावा अगर भांग पीने वाले व्यक्ति को अमरुद के पत्ते भी खिला दिए जाये तो भी उसका नशा कम होने लगता हैं। लेकिन शर्त बस इतनी हैं की वह व्यक्ति अमरुद के पत्तों को अच्छी तरह से चबा कर खा ले।

मित्रो बहुत ही हर्ष के साथ आप सभी को सूचित किया जाता है की इस वेबसाइट की एप्प लांच कर दी गयी है आप सभी से निवेदन है की इसे डाउनलोड कर हमे आर्शीवाद दें ताकि हम आप लोगो की सेवा इसी तरह करते रहें इसे डाउनलोड करें और अपनों मित्रों को भी बताएं डाउनलोड करने के लिए यंहा क्लिक करें और अधिक जानकारी पाएं

Leave a Reply