थायराइड विकार पुरुषों में स्वास्थ्य समस्याओं का एक महत्वपूर्ण कारण हो सकता है। पुरुषों में थायराइड का सबसे मुख्य प्रकार एक अति सक्रिय थायरायड ग्रंथि हैं जो हाइपरथायराडिज्‍़म का कारण बनती हैं, साथ ही एक न्यून (अण्डरएक्टिव) थायराइड ग्रंथि के कारण भी हाइपोथायरायडिज्‍म होता है। थायराइड ग्रंथि शरीर की चयापचय (मेटाबॉलिज़्म) को नियंत्रित करती हैं। इसलिए थायराइड ग्रंथि के साथ समस्याओं में चयापचय गति धीमी या फिर तेज हो जाती है, जिसके कारण थायराइड के विभिन्न लक्षण दिखने लगते हैं।  इम्यून सिस्टम के ठीक प्रकार से काम ना करने के कारण शरीर में थाइराइड हॉर्मोनन्स के तेजी से घटने – बढने से यह समस्या होती है, जो जल्द ही मरीज की नियमित जीवन शैली को असंतुलित कर देती है।

 

इसके पीछे आनुवंशिक, प्राकृतिक और आहार कारक भी हो सकते हैं। कई बार हॉर्मोनल असंतुलन से ग्रस्त महिलाएं इस रोग के प्रति ज्यादा संवेदनशील होती हैं। आमतौर पर यह बीमारी बीस से चालीस वर्ष के आयुवर्ग के लोगों में देखने को मिलती है लेकिन यह किसी भी उम्र के लोगों को अपना शिकार बना सकती है। पुरुषों में थायराइड समस्याओं के लक्षण कुछ इस तरह से हो सकते हैं-

thyroid tests 5 प्रमुख लक्षणों से पहचानें पुरुषों में थायरॉइड li pregnancy thyroid

1. बहुत अधिक थकान या तनाव
बहुत जल्दी थक जाना, सोने में तकलीफ होना, बेवजह चिढ़ना, बेचैनी, तनाव और मूड बदलना जैसे व्यवहार में होने वाले बदलाव थाइरॉइड का संकेत हो सकते हैं।

2. भूख बढ़ना
थाइरॉइड की समस्या का सीधा प्रभाव हमारे मेटाबॉलिज्म पर पड़ता है जिससे भोजन बहुत जल्दी पचता है और बार-बार भूख लगती है। अक्सर इस स्थिति में पेट भी अधिक खराब रहता है और कब्ज की दिक्कत होती है।

3. मांसपेशियों में हल्का दर्द
हाइपरथाइरॉइड की स्थिति में मांसपेशियों, हड्डियों और जोड़ों में दर्द होता है।

4. बहुत अधिक पसीना आना
शरीर में मेटा़बॉलिज्म बहुत अधिक बढ़ जाने से पुरुषों को या तो बहुत अधिक पसीना आता है या फिर बहुत कम पसीना आता है। कई बार पसीने के साथ-साथ बहुत बेचैनी भी होती है।

5. शरीर में सूजन
कई बार शरीर के कुछ हिस्सों में अधिक सूजन, जैसे चेहरे, आंखों, उंगलियों आदि की समस्या भी थाइरॉइड का संकेत होती है।

Leave a Reply