आंवला में फल और औषधि दोनों के गुण उपस्थित होते हैं। आयुर्वेद ने इसे ‘अमृतफल’ कहा है। आयुर्वेंद में इसका बहुत ही महत्व है। खाने में आंवला कड़वा, मधुर, एवं शीतल है। यह अपने कड़वेपन के कारण कफ एवं गैस को खत्म करता है और मधुरता व शीतलता के कारण पित्तनाशक है अत: यह त्रिदोषनाशक है।

आंवले के अन्दर आयरन और  विटामिन `सी´ भरपूर मात्रा में पायी जाता है।इसके अलावा इसमें गैलिक एसिड, टैनिक एसिड, शर्करा तथा कैल्शियम भी पाया जाता है। आंवले के रस में संतरे के रस की तुलना में 20 गुना अधिक विटामिन सी पाया जाता है। इसकी खास बात यह है कि इसके विटामिन गर्म करने और सुखाने से भी खत्म नहीं होते।

emblica-officinalis

आंवला युवको को जवान बनाए रखता है और बूढ़ों को युवाशक्ति प्रदान करता है। इसी का प्रयोग करके `च्वयन´ ऋषि ने दुबारा अपने यौवन को प्राप्त किया था। आंवले में जितने रोग से लड़ने की शक्ति, खून को साफ और बल-वीर्य बढ़ाने वाले तत्व हैं। उतने संसार की किसी वस्तु या औषधि में नहीं हैं। इसलिए स्वास्थ्य को ठीक रखने के लिए अपने भोजन में आवले को मुख्य रूप से शामिल करें।

आइये जाने आंवले में छिपे गुण

वजन घटाने में मददगार

आंवले के सेवन से शरीर में प्रोटीन का स्तर अधिक होता है और नाइट्रोजन का संतुलन रहता है जिससे फैट्स बर्न होता है और वजन घटाने में मदद मिलती है।

पाचन ठीक रखता है

आंवला में फाइबर की अधिकता है। यह गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल ट्रैक को साफ रखता है और शरीर के टॉक्सिन दूर रखता है।इसका कसैला स्वाद शरीर में पाचन ठीक रखने वाले एन्जाइम्स को सक्रिय रहता है जिससे एसिडिटी कम करने में आसानी होती है।

दिल को रखे सेहतमंद

दिल को सेहतमंद रखने के लिए रोजा आंवला खाने की आदत डालें। इससे आपके दिल की मांसपेशियां मजबूत होंगी, जिससे दिल शरीर को ज्यादा व साफ खून सप्लाई कर पाएगा। बेशक इससे आप सेहतमंद रहेंगे।

डायबिटीज में फायदेमंद

आंवले के सेवन से शरीर में शुगर का स्तर संतुलित रहता है। इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट्स क्रीएटिनाइन के सीरम का स्तर सामान्य करता है और शरीर में ऑक्सीडेटिव तत्व को कम करता है जिससे ग्लूकोज नियंत्रित रहता है।

amla

त्वचा के लिए फायदेमंद

आंवले में विटामिन सी और एंटीऑक्सीडेंट्स अच्छी मात्रा में हैं जो त्वचा को सेहतमंद रखते हैं और शरीर के टॉक्स‌िन दूर करते हैं। इसके नियमित सेवन से मुहांसे और झुर्रियों की समस्या कम हो जाती है।आंवले के चूर्ण का उबटन चेहरे पर लगाये चेहरा साफ होगा दाग धब्बे दूर होंगे।

हाई ब्लडपे्रशर में बहुत फायदा

आंवले का मुरब्बा प्रतिदिनसुबह-सुबह खाने से हाई ब्लडपे्रशर में बहुत फायदा होता है। नारियल के पानी के साथ आंवले के चूर्ण का सेवन करने से खट्टी डकारें आनी बंद हो जाती हैं।

बालों के लिए फायदेमंद

आंवले में विटामिन सी और एंटीऑक्सीडेंट्स अच्छी मात्रा में हैं जो बालों के प्राकृतिक रंग को बरकरार रखते हैं और यह बालों के लिए प्राकृतिक कंडिशनर का काम करता है।आंवला बालों को मजबूत बनाता है, इनकी जड़ों को मजबूत करता है और बालों का झडऩा भी काफी हद तक रोकता है।

नकसीर के लिए फायदेमंद

जिन्हें नकसीर होता हो (नाक से खून) सूखा आंवला रात में भिगाकर उस पानी से सर धोयें। आंवले का मुरब्बा खायें। आंवले का रस नाक में टपकायें।

मूत्राशय की पथरी में लाभ

आंवले का चूर्ण मूली में भरकर खाने से मूत्राशय की पथरी में लाभ होता है।

चक्कर में लाभ

गर्मियों में चक्कर आता हो जी घबराता हो तो आंवले का शर्बत पियें।

पीलिया में फायदा

पीलिया से परेशान हैं तो आंवले को शहद के साथ चटनी बनाकर सुबह-शाम सेवन करें।

ज्वर में फायदा

आंवले के रस में घी का छौंक देकर सेवन करने से ज्वर नष्ट हो जाता है।

श्वेत प्रदर की समस्या

श्वेत प्रदर की समस्या में आंवले के चूर्ण में मधु मिलाकर सेवन करें, लाभ होगा।

स्मरण शक्ति

स्मरण शक्ति कमजोर पड़ गई हो तो सुबह उठकर गाय के दूध के साथ दो आंवले का मुरब्बा खाना चाहिए।

इम्युनिटी पावर

आंवला बॉडी की इम्युनिटी पावर बढ़ाकर उसे इंफेक्शंस से लडऩे की स्ट्रेंथ देता हैं। सुबह नाश्ते में आंवले का मुरब्बा खाने से आप सालभर स्वस्थ बने रहेंगे।

अर्थराइटिस में सहायक

आंवला अर्थराइटिस के दर्द को कम करने में भी सहायक होता है।

कोलेस्ट्रॉल घटाता है

इसमें विटामिन सी, अमीनो एसिड व पेसटिन हैं जो शरीर में बैड कोलेस्ट्रॉल का स्तर घटाते हैं और गुड कोलेस्ट्रॉल बढ़ाते हैं। यह आर्ट्रीज व रक्त कोशिकाओं में फैट्स जमने से भी बचाव करता है।

चोट लगना

कटने से रक्त-स्राव होने पर कटे हुए स्थान पर आंवले का ताजा रस लगाने से खून का बहना बंद हो जाता है।

रजोनिवृत्ति (मासिक धर्म समाप्ति) के बाद के शारीरिक व मानसिक कष्ट

शारीरिक जलन, ब्रहमतालु में गर्मी आदि के लिए आंवले का रस 10 से 20 ग्राम की मात्रा में मिश्री के साथ या सूखे आंवले का चूर्ण समान मात्रा में मिश्री के साथ सुबह-शाम सेवन करने से लाभ मिलता है।

कैंसर से बचाव

आंवला में एंटीऑक्सीडेंट्स अच्छी मात्रा में है जो कार्सिनोजेनिक कोशिकाओं को बढ़ने से रोकते हैं और कैंसर से बचाव करते हैं।

तेज दिमाग के लिए

आंवले में एंटीऑक्सीडेंट्स अधिक हैं जो दिमाग की कोशिकाओं को नष्ट होने से बचाते हैं और इसमें मौजूद नियोपाइनफ्राइन नामक तत्व मूड से जुड़ी क्रियाओं को नियंत्रित रखता है।

आंखों के लिए फायदेमंद

इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट्स रेटीन को ऑक्सीडाइज होने से बचाकते हैं। इसके नियमित सेवन से मोतियाबिंदरतौंधी जैसी समस्याओं से बचा जा सकता है।

गठिया में फायदेमंद

इसमें एंटी इन्फ्लामेट्री गुण है जो गठिया में होने वाले दर्द और सूजन को कम करने में मददगार है। इसमें मौजूद विटामिन सी शरीर में कैल्शियम के पाचन में मदद करता है जिससे ऑस्टियोपोरोसिस जैसे रोगों से बचना आसान हो सकता है।

गर्भावस्था

गर्भावस्था में उल्टी हो रही हो, तो आंवले का मुरब्बा खायें।

Loading...

Leave a Reply