आँखों की बीमारी का घरेलू इलाज और रोशनी बढ़ाने का आयुर्वेदिक उपाय शरीर में आँखे सबसे अनमोल और जरुरी हिस्सा है। आजकल हमारा ज्यादा समय मोबाइल टीवी और कंप्यूटर देखने में जाता है जोकि आंखों की समस्या को बढ़ावा देते है। इसके इलावा हमारी जीवनशैली, हवा में प्रदूषण और धूल मिट्टी के कारण आंखों में पानी आना भारी होना, आंखों में खुजली जलन और दर्द जैसे समस्याएं बढ़ती जा रही है। समस्या का पता लगते ही अगर आँखों की देखभाल ना की जाये तो कई प्रकार के नेत्र रोग होने की संभावना होती है जैसे आँखों की रौशनी कमजोर होना, मोतियाबिंद या आँख में इन्फेक्शन होना।

आँखों की बीमारी का घरेलू इलाज और उपाय

आँखों की रोशनी बढ़ाने के उपाय

  • फलों और हरी सब्जियों में विटामिन ए अधिक होता है।
  • स्वस्थ आँखों के लिए विटामिन ए जरुरी होता है।
  • आँखों की रोशनी तेज करने के लिए जूस पीना और सलाद खाना अच्छा उपाय है।

आँखों में इन्फेक्शन का इलाज

  • आँख में दर्द जलन या सूजन हो गई हो तो धनिया की सुखी पत्तियां पानी में उबाल कर पानी ठंडा होने पर आँखे धोए। किसी भी तरह के eye infection को ठीक करने में ये उपाय काफी उपयोगी है।
  • किसी वजह से अगर आँखों में कोई इन्फेक्शन या सूजन आ जाये तो 1 चम्मच सेब का सिरका 1 गिलास पानी में डाले और रुई भिगो कर आँखे साफ करे।
  • आँखों के इन्फेक्शन के इलाज के लिए रात को सोने से पहले तुलसी के पत्ते पानी में रख दे और अगली सुबह इससे अपनी आँखे धोए।
  • उबलते पानी में थोडा सा नमक मिला कर उसमें रुई भिगो कर उससे आँखों की सिकाई करे।

आँखों में खुजली का इलाज

माजूफल और छोटी हरड़ पीस कर लगाने से आंखों की खुजली दूर होने लगती है।

आँखों में दर्द का इलाज

  1. आँखों की सूजन और आँखे लाल होने पर भी ठंडे पानी से सिकाई करे।
  2. आपकी आँखों में दर्द या जलन हो रही है तो साफ कपडा ठंडे पानी में भिगो कर उससे अपनी आँखे सेकें।
  3. अगर ये समस्या सर्दी के मौसम में हुई हो तो गरम पानी से सिकाई करे।

आँखों का भेंगापन कैसे दूर करें

  • टेढ़ा देखना भेंगापन के संकेत है। भेंगापन दूर करने के लिए कुछ उपाय बार बार अभ्यास करने से फायदा मिलता है।
  • अंगूठे के साथ वाली उंगली नाक के आगे रख कर दोनों आँखों से इस उंगली को देखे। इस उंगली को अब दायें और बाएं घुमाए और सिर को हिलाए बिना दोनों आँखों से उंगली को देखते रहे।
  • एक बिना नंबर का चश्मा ले कर इसके शीशे पर काला रंग कर दे, बस इसके बीच का भाग सफेद रहने दे। अब इस चश्मे को अधिक प्रयोग करे और चश्मे के बीच वाले सफेद हिस्से से देखने का अभ्यास करे। इस उपाय से टेढ़ा देखने की आदत दूर होने लगेगी।

मोतियाबिंद का घरेलू इलाज

हींग, सौंठ और सौंफ पीस कर शहद में मिला कर हर रोज खाये। इससे सफेद मोतिया ठीक करने में मदद मिलती है।

आँखों की देखभाल और परहेज

  • नहाने से पहले टब या फिर बाल्टी में पानी भर के अपना मुंह पानी में डालें और आँखे खोल दे। किसी भी प्रकार के आँख के रोग में ये उपाय फायदा करता है।
  • अपने दोनों हाथ की कटोरी बना ले और अपनी आँखों पर 1 मिनट तक रखे और हाथों को हटाए बिना आँखे खोले। इस उपाय से आँखों की थकान दूर होती है और रोशनी भी बढ़ती है।
  • बालों पर केमिकल वाले शैम्पू और कलर प्रयोग करने से भी परहेज करे।
  • आँखे ठीक रहे इसके लिए आँखों को आराम चाहिए। इसलिए हर रोज 6 से 8 घंटे की गहरी नींद जरूर ले नहीं तो आँखों के नीचे काले घेरे बनने लगेंगे और आप ज्यादा समय आँखे भारी महसूस करेंगे।
  • आंखों की एलर्जी से बचने के लिए आँखों से धूल मिट्टी साफ जरूर करे। इसके लिए ठंडे पानी से आँखे धोना चाहिए।
  • लगातार कई घंटे टीवी देखना और कंप्यूटर चलाना आँखों के लिए अच्छा नहीं होता। ज्यादा पास से टीवी देखने से आँखों की रोशनी कमजोर होने लगती है।
  • धूप में बाहर जाते वक़्त धूप वाला चश्मा पहने। इससे आपकी आँखे धूल मिट्टी और तेज धुप से बची रहेगी।

 

Leave a Reply