सामान्य उपचार

​कैसे रोकें बालों का झड़ना (Hair Fall Remedies in Hindi)
झड़ते बालों से निजात पाने के लिए हमें सबसे पहले अपनी जीवनशैली को देखना चाहिए। असंतुलित आहार या गलत उत्पादों का प्रयोग बाल झड़ने का मुख्य कारण होता है। इनसे बचने के लिए कुछ मुख्य उपयोगी उपाय (Remedies for Hair fall in Hindi) निम्न हैं:
बालों को झड़ने से रोकने के लिए स्वस्थ जीवनशैली अपनायें।
तनाव कम कर, उचित आहार लेकर भी झड़ते बालों से निजात पाया जा सकता है।
बाल संवारने की उचित तकनीक अपनाकर और यदि संभव हो तो बालों को झड़ने से रोकने वाली दवाइयों का उपयोग कर बालों के झड़ने की समस्या को रोका जा सकता है।
किसी भी प्रकार के संक्रमण से बचने के लिए बालों की सफाई पर ध्यान देना चाहिए। झड़ते बालों की समस्या से रहने के लिए दूसरों के ब्रश, कंघी, टोपी आदि का उपयोग नहीं करना चाहिए।
कई बार दवाइयों की सहायता से वंशानुगत गंजेपन के कुछ मामलों को भी रोका जा सकता है। ऐसी दवाइयां डॉक्टर की सलाह से ही लें।

बाल का झड़ना रोकने के लिए घरेलू नुस्ख़े

काले-घने और लंबे बालों का राज है पोषण। बालों की जड़ों को मिलने वाला पोषण। बालों को पोषण कलर, डाय या शैंपू से नहीं बल्कि जड़ी-बूटियों से धोने या कुदरती तेल लगाने से मिलता है। बाल झरने के तो वैसे कई कारण होते हैं। लेकिन मुख्य रुप से पेट की गड़बड़ी, तनाव, अनिंद्रा और खराब जीवनशैली है। दवाओं के साइड इफेक्ट खासकर कैंसर के इलाज के दौरान कीमोथेरेपी और प्रसव के दौरान भी बाल झड़ते-गिरते हैं।

आइए जानते हैं, कुछ ऐसे घरेलू उपचारों के बारे में जिसे इस्तेमाल करने से न सिर्फ बालों का झड़ना-गिरना बंद होता है बल्कि बालों में कुदरती चमक भी आती है।
बाल का झड़ना रोकने के लिए घरेलू नुस्ख़े

मेंहदी और आंवला

मेंहदी और आंवला की बराबर मात्रा लेकर शाम को पानी में भींगने के लिए छोड़ दें। रात भर भींगने के बाद सुबह इससे बालों को धोएं। इसे लगातार आजमाने बाल झड़ने रुक जाते हैं और बाल काले, मुलायम और लंबे भी होते हैं।

शंखपुष्पी

शंखपुष्पी से बने तेल रोजाना नियमित रूप से बालों में लगाने से सफेद बाल काले हो जाते हैं। इसके तेल से मालिश करने से बालों की जड़ों को पोषण मिलता है और बाल झड़ने बंद हो जाते हैं।

शहद और अंडा

शहद से बालों की जड़ों को उचित पोषण मिलता है। अगर शहद के साथ अंडे की जर्दी मिला दे तो इसका असर दोगुना हो जाता है। बालों की जड़ यानि स्कैल्प को इससे जरुरी प्रोटीन केराटिन मिलता है और बालों का झड़ना-गिरना बंद हो जाता है।

भृंगराज

भृंगराज बालों के लिए वंडर मेडिसीन के रुप में जाना जाता है। इसके औषधीय गुणों से बालों को काफी फायदा पहुंचता है। रोजाना भृंगराज के तेल से बालों की मालिश करने से बाल न सिर्फ काले और घने होते हैं बल्कि बालों का टूटना भी रुक जाता है। इसे लगाने से बालों में रुसी को भी कम होती है।

शिकाकाई

शिकाकाई और आंवले को अच्छी तरह से कूट लें। दोनों को रात भर पानी में भीगने के लिए छोड़ दें। सुबह इस पानी को मसलकर छान लें और इससे बालों की मालिश करें। शिकाकाई और आंवले से बाल कभी सफेद नहीं होते व जिनके बाल सफेद हों तो वे भी काले हो जाते हैं। बालों का झड़ना-गिरना भी बंद हो जाता है।

नारियल तेल, ऑलिव ऑयल और नींबू का रस

नारियल तेल और ऑलिव ऑयल की बराबर मात्रा लेकर इसमें नींबू की कुछ बूंदे मिला कर बालों की मालिश करें। मालिश के बाद फिर गर्म तौलिए से सिर को 3 मिनट के लिए ढक लें। यह करने से बालों का झड़ना बंद होता है और बाल काला भी होता है।

मेथी

मेथी के बीजों में बालों को पोषण देने वाले सभी जरुरी तत्व मौजूद रहते हैं,जो बालों की जड़ को मजबूती प्रदान करता है। मेथी दानों को पीसकर चूर्ण बना लें। चूर्ण में पानी मिलाकर पेस्ट तैयार कर लें और इस पेस्ट को बालों में लगाएं। इसे लगाने से बालों का झड़ना-गिरना कम होगा और बाल काले, घने और लंबे होंगे। डैंड्रफ की परेशानी भी खत्म होगी।

अमरबेल

अमरबेल बालों के लिए टॉनिक की तरह काम करता है। अमरबेल को पानी में उबाल कर रख लें। जब पानी आधा हो जाए और अमरबेल पानी में पूरी तरह मिल जाए तो तो इसे उतार लें। सुबह इससे बालों को धोएं। इससे बालों का झड़ना-गिरना रुक जाएगा। बाल लंबे, काले और घने भी होंगे।

त्रिफला

त्रिफला चूर्ण में लौह भस्म मिलाकर सुबह-शाम खाने से बालों का झड़ना बंद हो जाता है और बालों में कुदरती रंग भी आती है।

Loading...

1 COMMENT

Leave a Reply