सामान्य उपचार

बेरीबेरी का उपचार और बचाव

बेरीबेरी का इलाज थायमिनीन सप्लीमेंट  से किया जाता है। जिसमें चिकित्सक ब्लड टेस्ट करवाता है जिससे यह पता चलता है कि शरीर विटामिन को कितनी अच्छी तरह से अवशोषित कर रहा है। डॉक्टर आपको थायमिनीन बेस्ड खास तरह के भोजन को लेने के बारे में भी दिशा निर्देश देगा जिसमें आपको अनाज, अंडा, मीट, बीट, सूखे मेवे, टमाटर और संतरे का जूस आदि लेने की सलाह दी जाएगी।
चावल, अधपका और कच्चा मीट आदि विटामिन बी 1 को आपके शरीर में अवशोषित न करने के लिए समस्या बन सकते हैं। बेरीबेरी रोग से बचने के लिए पौष्टिक और बैलेंस डाइट लेनी चाहिए जिसमें थायमिनीन की उचित मात्रा हो।
गर्भवती और बच्चों को दूध पिला रही मांओं को भी समय-समय पर शरीर में विटामिन की जाँच कराते रहना चाहिए। साथ ही ऐसे व्यक्ति जो एल्कोहल का सेवन ज्यादा करते हैं उन्हें भी समय समय पर विटामिन की कमी की जांच करवाते रहना चाहिए।

बेरीबेरी से बचाव के लिए घरेलू नुस्ख़े-

ब्राउन राइस-भूरा चावल

ब्राउन राइस यूं तो गरीबों का खाना माना जाता है। लेकिन सफेद चावल की तुलना में ब्राउन राइस में कहीं अधिक पोषक तत्व होते हैं जो शरीर के लिए लाभदयक होते हैं। ब्राउन राइस में थिअमिन भी उच्च मात्रा में होता है। बेरीबेरी रोग से बचने के लिए रोजाना दो कटोरे ब्राउन राइस खाना आवश्यक है।

brown_rice_16x9 जानिए बेरी बेरी के उपचार के बारे में brown rice 16x9

फली या बीन्स

बीन्स में बेहद पोषक तत्व होते हैं। बीन्स में प्रोटीन, कैल्शियम, खनिज और थिअमिन भी होती है जो कि हड्डियों और मांसपेशियों के बेहतर स्वास्थ्य के लिए बेहद जरूरी है। पूरे दिन में दो बार बीन्स की सब्जी जरूर खाएं।

बादाम

बादाम में आवश्यक थिअमिन होता है जो कि बेरीबेरी रोग से बचाव के लिए बेहद आवश्यक है। ऐसे में रोजाना बादाम खाया जाना अति आवश्यक है। बादाम में सभी जरूरी मिनरल और विटामिन मौजूद होते हैं जो कि शरीर को सुचारू रूप से कार्य करने के लिए प्रेरित करते हैं। उपचार के लिए रोजाना रात में तकरीबन 15 बादाम पानी में भिगा दें और सुबह उन्हें छीलकर धीरे धीरे चबाकर खाएं।

almond जानिए बेरी बेरी के उपचार के बारे में almond

सूरजमुखी के बीज

सूरजमुखी के बीजों में सेलेनियम , टैनिन  और ओमेगा 3 फैटी एसिड जैसे यौगिक होते हैं, जिसके कारण यह एंटीऑक्सीडेंट गुणों से भी भरपूर होते हैं। सूरजमुखी के इन बीजों में विटामिन बी 1, बी 5 और बी 6 भी मौजूद होते हैं। सूरजमुखी के बीज का स्वाद अखरोट जैसा होता है, इसलिए इसे यूं भी चबाया जा सकता है। रोजाना एक बड़ी चम्मच सूरजमुखी के बीजों को चबाना चाहिए।

आलू

आलू भी पोषक तत्वों से युक्त खाद्य पदार्थ है। इसमें फाइटोकेमीकल्स , आयरन, पोटेशियम  , तांबा , विटामिन सी, विटामिन बी 1 और विटामिन बी 6 की उच्च मात्रा होती है। ज्यादा लाभ के लिए आलू को बेक करके खाना चाहिए। बेरीबेरी रोग में रोजाना दो आलू भून  कर जरूर खाएं।

Health-benefits-of-Potato1 जानिए बेरी बेरी के उपचार के बारे में Health benefits of Potato1

Leave a Reply