हरी सब्जियों में भिंडी का एक महत्वपूर्ण स्थान है। कई प्रकार के पौष्टिक तत्व और प्रोटीन होने की वजह से भिंडी स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद होती है। भिंडी में प्रोटीन, वसा, रेशा, कार्बोहाइट्रेड, कैल्शियम, फास्फोरस, आयरन, मैग्नीशियम, पोटैशियम, सोडियम और कॉपर पाया जाता है। इसमें भरपूर मात्रा में फाइबर पाया जाता है, जिस वजह से ये डायबिटीज रोगियों के लिए अच्छी होती है। इसके अन्य फायदे क्या हैं, आइये जानते हैं:

lady-finger

हृदय रोगों से बचाने में मददगार

भिंडी में मौजूद पेक्टिन (Pectin) घुलनशील फाइबर बॉडी में कोलेस्ट्रॉल कम करने में मदद करता है और इस प्रकार भिंडी हृदय रोगों को रोकने में सहायक है। भिंडी में मौजूद करसेटिन (quercetin) तत्व कोलेस्ट्रॉल के ऑक्सीकरण रोकने में मदद करता है, जिससे दिल की बीमारियों से का खतरा कम हो सकता है।

गर्भवती महिलाओं

भिंडी में विटामिन बी9 और फोलिक एसिड तत्व होते हैं जिनसे गर्भवती महिलाओं को अपने नवजात शिशु में न्यूरोलॉजिकल बर्थ डिफेक्ट रोकने में मदद मिलती है।

डायबिटीज कंट्रोल करने में सहायक

फाइबर से भरपूर भिंडी पाचन तंत्र में शुगर अवशोषण की दर को नियंत्रित कर ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल करने में सहायक है। भिंडी के एंटी डायबिटिक गुण एंजाइम मेटाबोलिज्म कार्बोहाइड्रेट को कम करने और इंसुलिन का उत्पादन बढ़ाने में सहायक हैं।

reverse-diabetes

इम्यूनिटी मज़बूत करे

भिंडी में भरपूर मात्रा में विटामिन सी होता है, जिससे आपको इम्यूनिटी मज़बूत करने और विभिन्न रोगों व इन्फेक्शन से लड़ने में मदद मिलती है। 100 ग्राम भिंडी आपकी दैनिक विटामिन सी की लगभग 38 फ़ीसदी ज़रुरत को पूरा करती है।

दिमाग के लिए अच्छी

भिंडी में फोलेट और विटामिन बी9 जैसे ज़रूरी पोषक तत्व होते हैं। ये तत्व आपके दिमाग के सही तरह से काम करने के लिए ज़रूरी होते हैं।

कैंसर से बचाने में सहायक

न्यूट्रीशन जर्नल में प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार इसमें मौजूद हाई एंटीऑक्सीडेंट आपकी सेल को फ्री रैडिकल सेल्स से डैमेज होने से बचाते हैं और बॉडी में कैंसर सेल्स को बढ़ने से रोकते हैं। इसमें मौजूद घुलनशील फाइबर पाचन तंत्र को सही रखकर आपको कोलोरेक्टल कैंसर का खतरे से बचाने में सहायक हैं।

वजन कम करने के लिए

भिंडी में कम कैलोरी होती है, 100 ग्राम भिंडी में केवल 33 कैलोरी होती है, इसलिए ये सब्जी वजन कम करने वाले लोंगों के लिए फायदेमंद है।

weight-loss

Loading...

Leave a Reply