मस्से अगर गर्दन के पीछे हो या कोई ऐसी जगह हो जहां सबकी नजर नहीं जाती… तो लोगों के लिए ये चिंता का विषय नहीं होता। लेकिन कई बार मस्से चेहरे में ऐसी जगह पर होते हैं जहां से वो दूसरों को आसानी से दिख जाते हैं। जिससे आपका खुद में शर्मिंदगी महसूस करते हैं और आपके चेतरे पर दिखने वाले ये मस्से आपकी खूबसूरती में बाधा बनते हैं। कई बार ये मस्से, कैंसर का रुप भी धारण कर लेते हैं। तो ऐसी स्थिति में अच्छा है कि आप मस्सों को हटा दीजिए। आज हम इस आर्टिकल के जरिए आपको बताएंगे कि इन मस्सों से आपको कौन से नुकसान हो सकते हैं । और किस तरह आप इन मस्सों को हटाने के लिए घरेलू उपाय कर सकते हैं।

मस्से होने की वजह

पैदा होने के बाद होने वाले मस्सों का मुख्य कारण इंफेक्शन होता है। इन मस्सों का कारण पेपीलोमा नाम का वायरस है। त्वचा पर पेपीलोमा वायरस के कारण छोटे, खुरदुरे कठोर दाने उभर आते हैं जिसे मस्सा कहते हैं। सामान्य तौर पर मस्से काले और भूरे रंग के होते हैं लेकिन कई बार ये त्वचा के ही रंग के होते हैं। जिसकी वजह से लोगों को ये जल्दी दिखाई नहीं देते और हालांकि आप मेडीकल ट्रीटमेंट या कुछ घरेलू इलाज के द्वारा इनसे हमेशा के लिए छुटकारा पा सकते हैं।

मस्से बन सकते हैं कैंसर का कराण अगर आपको जन्म के समय से ही कोई मस्सा है तो ये हानिकारक नहीं होते है। लेकिन ये मस्से 30 साल की उम्र के बाद होते हैं। तो आपको कैंसर होने का खतरा काफी बढ़ जाता हैं। इसलिए शरीर के किसी भी मस्से से खून निकले, तो इसे नजरअंदाज ना करें और मस्सों में होने वाली खुजली को भी हल्के में ना लें ।

मस्सों से छुटकारा दिला सकता है प्याज

प्याज हर तरह से हमारे लिए फायदेमंद है। खाने से लेकर इसके रस को लगाने तक के फायदे हैं। मस्सों के लिए तो ये रामबाण है। मस्सों को हटाने के लिए लगातर बीस से तीस दिनों तक प्याज के रस को मस्सों में लगाएं। जब समय मिले तब प्याज को काटकर मस्सों पर रगड़ें। दिन में दो-तीन बार ऐसा करें। प्याज के रस से मस्सों का वायरस मर जाता है और मस्से जड़ से खत्म हो जाते हैं।

 

 

Loading...

Leave a Reply