क्या हर समय जम्हाई लेना, सोना और आलस करना आपकी हॉबी में शुमार हो चुका है? मुबारक हो, आफ हमेशा थके रहने वाले लोगों में शामिल हो चुके हैं (गर्भावस्था की स्थिति अपवाद है).

वाकई खींझ महसूस होती है जब रात में आठ घंटे की नींद पूरी करने के बाद भी हम दिन भर थकान महसूस करते हैं. थकान का संबंध केवल रात में आपकी नींद से ही नहीं है बल्कि दिन भर में ऐसी कई चीजें आप करते हैं जो आपको थकाती हैं.

sleepy

कई बार कम ऊर्जा का कारण आपका रुटीन न होकर शारारिक अंसुतलन भी हो सकता है.

कसरत कम करते हैं या आवश्यकता से अधिक करते हैं

नियमित तौर पर कसरत थकान कम करने में सहायक है और रोज कसरत करने वाले लोगों को नींद भी पर्याप्त आती है. कसरत करने से शरीर  में एंडोर्फिन का मात्रा बढ़ती है जिससे नींद अच्छी आती है. लेकिन जरूरत से ज्यादा करने से भी अधिक थकान हो सकती है.

नाश्ता नहीं करते और अधिक खाते हैं जंक फूड

अगर आप अपने दिन की शुरुआत कार्बोहाइड्रेट और प्रोटीन की प्रचुरता वाले नाश्ते से नहीं करते हैं तो आपका शरीर रात के भोजन पर ही आधारित होता है जिससे रक्त संचार में ऑक्सीजन का प्रवाह कठिन होने लगता है.

नाश्ता छोड़ने से थकान महसूस होती है जिसके लिए आप  दिन भर अधिक मात्रा में शुगर, कार्बोहाइइ्रेट और कैफीन युक्त चीजें लेते हैं. इससे कुछ पल के लिए राहत तो मिलती है पर रक्त में शुगर की मात्रा बढ़ने लगती है जिससे थकान अधिक रहती है.

breakfast

सोने से पहले फोन से चिपके रहते हैं

फोन से निकलने वाली ब्लू लाइट आपके नींद के साइकल को प्रभावित करती है. इतना ही नहीं, रात में उठकर ईमेल चेक करनी की आपकी आदत आपको शरीर को सतर्क कर देती है जिससे नींद में भी उसे आराम नहीं मिल पाता है और दिन भर थकान महसूस होती है.

परफेक्शनिस्ट हैं और लोगों को न भी नहीं कह पाते हैं

हर किसी को खुश रखना भी आपकी थकान बढ़ाता है. यह आपको भावनात्मक और शारीरिक तौर पर थकाने के लिए काफी है. ऐसे में दिन भर कामकाज के बाद अगर आप अक्सर कलीग को देर तक रुककर काम में मदद करते हैं, दूसरों को खुश करने के लिए थके होने के बाद भी पार्टी करते हैं तो कम से कम अब ‘ना’ कहना सीख लें.

इसी तरह परफेक्शन की चाहत में लोग अपने काम को सबसे बेहतर बनाने का तनाव अधिक लेते हैं जिससे मानसिक व शारीरिक थकान अधिक होती है.

पानी कम पीते हैं

अगर आप पानी कम पीते हैं तो डीहाइड्रेशन के कारण भी थकान महसूस होती है. पानी कम पीने से शरीर में ऑक्सीजन की कमी हो सकती है. ऐसे में कॉफी पीने के बजाय आप ब्रेक के दौरान पानी पिएंगे तो तरोताजा रहेंगे.

water

आयरन की कमी

शरीर में आयरन की कमी के कारण भी अधिक थकान महसूस होती है. आयरन की कमी के कारण भी शरीर में ऑक्सीजन का प्रवाह अवरोधित होता है. इतना ही नहीं, हमारी धारणा के विपरीत एनीमिया की समस्या महिलाओं से अधिक पुरुषों में है.

एंथ्रोपोमेट्रिक एंड बायोमेट्रिक (कैब) के शोध की मानें तो भारत में 75 से 80 प्रतिशत लोगों को अनीमिया की शिकायत है या आयरन जरूरत से कम है. अगर आपको भी थकान अधिक होती है तो आसान से ब्लड टेस्ट के जरिए इसका पता लगा सकते हैं. साथ ही, हेल्थ सप्लीमेंट लेने के बजाय आयरन से भरपूर डाइट जैसे हरी पत्तेदार सब्जियां और विटामिन सी की प्रचुरता वाले साइट्रस फल का सेवन करें.

रात में लेते हैं अल्कोहल

अगर दिन भर की थकान औऱ तनाव मिटाने के लिए आप रात  में अल्कोहल का सेवन करते हैं तो इससे भी थकान बढ़ती है. इसमें मौजूद केमिकल्स नींद के चक्र में रुकावट डालते हैं और हार्मोनल अंसुतलन पैदा करते हैं. ऐसे में रात में ड्रिंक करने से बचें और कम से कम सात से आठ घंटे की नींद रोज लें.

alcoholl

Loading...

Leave a Reply