'
Breaking News

शिलाजीत के सेवन से आ सकती है आपकी जिंदगी में खुशियाँ


स्वाद में शिलाजीत काफी कड़वा, कसैला, उष्ण और वीर्य पोषण करने वाला होता है। देखने में यह तारकोल की तरह बेहद काला और गाढ़ा होता है जो सूखने के बाद एकदम चमकीला रूप ले लेता है।

इसके सेवन के न केवल सेक्स पॉवर बढ़ती है वरन इसके शरीर पर कई अन्य प्रभाव भी होते हैं जिनकी सहायता से बुढापा भी दूर रहता है।

shilajit-ke-labh

मधुमेह, स्वप्नदोष, यौन दुर्बलता, शारीरिक दुर्बलता दूर करने के लिए शिलाजीत का प्रयोग उत्तम माना जा सकता है।

शिलाजीत के प्रकार

शिलाजीत के चार प्रकार होते हैं- रजत, स्वर्ण, लौह और ताम्र। हर प्रकार की शिलाजीत के गुण व लाभ अलग-अलग हैं।

  • रजत शिलाजीत पित्त तथा कफ के विकारों को खत्म करता है।
  • स्वर्ण शिलाजीत वात और पित्तजनित बीमारियों के लिए असरदार है।
  • लौह तथा ताम्र शिलाजीत कफ से हुए रोगों के इलाज के लिए कारगर दवा है।

आइये जाने कैसे शिलाजीत दे सकता है आपको खुशियां

 

उम्र घटाए

उच्च ऊर्जा और जैव उत्पादक गुणों से भरी शीलाजित नई कोशिकाओं को दुबारा बनाती है और पुरानी कोशिकाओं को मेंटेन करती है, जिससे उम्र कम लगती है।

दिल के सेहत का भी रखता ख्याल

शिलाजीत दिल के सेहत के लिए भी अच्छा है। दिल के साथ-साथ यह रक्त चाप को भी नियंत्रित करता है।

high-blood-presure

पाचनतंत्र के लिए

शिलाजीत शरीर के पाचन तंत्र को भी मजबूत करता है। इसके सेवन से अपच, गैस, कब्ज और पेट के दर्द जैसी बिमारियां खत्म होती हैं।

शरीर की सूजन मिटाए

यह आपके स्‍वास्‍थ्‍य को बना सकती है। अगर आपके शरीर में दर्द, सूजन या गठिया रोग है तो, शिलाजीत को रोजाना प्रयोग करें।

swelling

ऊजा बढ़ाए

शिलजीत के सेवन से शरीर में तुरंत ही ऊर्जा आती है। इससे प्रोटीन और विटामिन ज्‍यादा मात्रा में मिलता है।

किडनी और अंत:स्राव ग्रंथि

शिलाजीत के सेवन से किडनी, पैनक्रियाज और थायराइड ग्लैंड भी सही से काम करते हैं। यह ब्लड सर्कुलेशन के लिए भी अच्छा है।

share-kidney-failure

मधुमेह ठीक करे

अच्‍छी डाइट और शिलाजीत का नियमित सेवन ब्‍लड शुगर लेवल को बैलेंस कर के मधुमेह को कंट्रोल करता है।

दिमाग की शक्ति बढाए

ये तनाव , थकान को मिटा कर नर्वस सिस्टम को मज़बूत बनाती है। यह याददाश्त को तेज बनाती है और ध्‍यान को केन्‍द्रित करने में मदद करती है।

headache

तनाव दूर करे

यह तनाव पैदा करने वाले हार्मोन को बैलेंस करती है और शरीर तथा दिमाग को शांत और स्‍वस्‍थ बनाती है।

एंटी एजिंग

शिलाजीत के सेवन से एजिंग की प्रक्रिया धीमी हो जाती है। अगर आप समय से पहले बूढ़े या थके-थके नजर आ रहे हैं तो शिलाजीत का सेवन करें। इसमें 85 फीसदी से ज्यादा मिनरल्स पाए जाते हैं जो बिमारियों को दूर भगाते हैं और रोग प्रतिरोधी क्षमता को मजबूत करते हैं। यह हड्डियों में कैल्शियम बनाकर हड्डियों को मजबूत बनाती है।

पुरुष यौन शक्ति में वृद्धि

शिलाजीत पुरुष प्रजनन प्रणाली और कामेच्छा को बढ़ाती है। यह नपुंसकता और प्रीमिच्‍योर इजैक्‍यूलेशन की समस्‍या को दूर करती है।
हड्डियों की बीमारी दूर करे: यह हमारी हड्डियों में मजबूती भरती है और गठिया तथा जोड़ों आदि के दर्द से राहत दिलाती है।

रक्‍त शुद्धी

यह नसों में खून के सर्कुलेशन को बढाती है और बीमारी को दूर रखने में मदद करती है।

शिलाजीत के सेवन में बरते सावधानियां

शिलाजीत का सेवन दूध और शहद के साथ सुबह सूयोर्दय से पहले कर लेना चाहिए। इसके ठीक प्रकार पाचन के बाद अर्थात तीन-चार घंटे के बाद ही भोजन करना चाहिए।

गठिया

जो मरीज गंभीर गठिया से ग्रस्त हों उन्हें शिलाजजीत सेवन से बचना चाहिए। ऐसे मरीजों को शिलाजीत के सेवन से खून में यूरिक एसिड की मात्रा बढ़ जाने का खतरा रहता है।

गर्भावस्था

गर्भवती और स्तनपान कराने वाली औरतों को भी इसके सेवन से परहेज करना चाहिए।

एलर्जी

कभी-कभी शिलाजीत के सेवन से एलर्जी, दिल की धड़कन तेज और उल्टी भी होती है।

 

 

 

दादी नानी तथा पिता दादाजी के बातों का अनुसरण, संयम बरतते हुए समय के घेरे में रहकर जरा सा सावधानी बरतें तो कभी आपके घर में डॉ. नहीं आएगा। यहाँ पर दिए गए सभी नुस्खे और घरेलु उपचार कारगर और सिद्ध हैं। इसे अपनाकर अपने परिवार को निरोगी और सुखी बनायें। रसोई घर के सब्जियों और फलों से उपचार एवं निखार पा सकते हैं। उसी की यहाँ जानकारी दी गई है। इस साइट में दिए गए कोई भी आलेख व्यावसायिक उद्देश्य से नहीं है। किसी भी दवा, योग और नुस्खे को आजमाने से पहले एक बार नजदीकी आयुर्वेदिक चिकित्सक से परामर्श अवश्य ले लें।

Related posts

14 Comments

    1. Sri Rajiv Dixit

      आप किसी पंसारी/आयुर्वेद की दूकान से ले सकते है, वहां आपको ये आसानी से मिल जाएगा।

      Reply
  1. अनिल सिंह

    ……..”लोग केहते है,किसी एक के जाने से हुमारी ज़िंदगी रुक नही जाती,
    ………….लेकिन ए कोई नही जनता, की लाखो के मिल जाने से भी..
    ………………………उस एक की कमी पूरी नही होती ”
    ………………………………..वो थे / है
    ……………………….!!! श्री राजीब भाई दीक्षित !!!…
    …………………….आप को हमारा कोटि कोटि नमन 
    !!! श्री राजीव भाई दीक्षित जी की याद में – स्वदेशी अपनाओ और देश बचाओ !!!

    Reply
    1. Sri Rajiv Dixit

      पृथ्वीनाथ शर्मा जी, आप शिलाजीत का सेवन गर्मियों में भी कर सकते है किन्तु उसकी मात्र बहुत ही कम होनी चाहिए। एक छोटे से बीज के बराबर की मात्र में दिन में दो बार लिया जा सकता है।

      Reply
  2. sharda

    हमने शिलाजित श्रीनगर से लाया है! मगर उसे कितनी मात्रा मे लेना है वो पता वो पता नही! प्लीज आप बताए.

    Reply
    1. Sri Rajiv Dixit

      विशेषज्ञों का कहना है कि शिलाजीत के सेवन के लिए जो मात्रा निर्धारित होनी चाहिए वह दो से बारह रत्ती के बीच होनी चाहिए। इसके अलावा व्यक्ति की आयु और उसकी पाचन क्षमता को जानकर ही उसे शिलाजीत का सेवन करने दिया जाना चाहिए।

      Reply
  3. jitendra

    sir mere pet me dard hota hai ,pesab se kuch saphed se liquid kabhi-kabhi nikalata so please mujhe koi medicine bataiye

    Reply
  4. MOHAN K GOEL

    शिलाजीत बहुत जल्दी या तो पिगल जाता है ,
    या फिर उसको बहुत छोटे तुकडे में लेन मुस्किल होता हे
    कैसे संभाले

    Reply
  5. VIJAY KANT MISRA 4

    merA na bohat problem hochy jano tai amai ki korty hoby ,,,,,plg akbr bolo plg ….give me your ans
    plz helpm SILAJIT S MK HOTA HY

    Reply

Leave a Reply