डायबिटीज एक गंभीर बीमारी है। डायबिटीज को समझनाजरूरी हैं और इसके लिए जरूरी है डायबिटीज के बारे में संपूर्ण जानकारी होना। डायबिटीज एक बार जिसे यह रोग पकड़ लेता है|
वजन कम होना, नजर कमजोर होना, थकान होना आदि डायबिटीज के कुछ सामान्य लक्षण हैं। लेकिन, कुछ लक्षण ऐसे होते हैं जो केवल पुरुषों में नजर आते हैं, महिलाओं में नहीं।जानते हैं पुरुषों में डायबिटीज के कुछ सामान्‍य लक्षण।

diabetes

डायबिटीज दो प्रकार का होता है टाइप 1 और टाइप 2। टाइप 1 डायबिटीज में पेनक्रियाज में इंसुलिन का बनना बंद हो जाता है। पेनक्रियाज रक्‍त में शर्करा की मात्रा को नियंत्रित रखता है। टाइप 2 मधुमेह तब होता है जब शरीर के भीतर मौजूद कोशिकाएं शरीर द्वारा उत्‍प‍ादित इंसुलिन का सही इस्‍तेमाल नहीं कर पातीं। पुरुषों में डायबिटीज के लक्षण काफी हद तक डायबिटीज के प्रकार पर निर्भर होता है जो कि शरीर की प्रणाली को प्रभावित करता है।

पुरुषों में नजर आने वाले डायबिटीज के लक्षण

  •     गुप्‍तांग के आसपास बार-बार छाले होना/लिंग के आसपास खुजली
  •     मांसपेशियों की क्षति से शक्ति में कमी होना
  •     स्‍तंभन दोष (इरेक्टिल डिस्‍फंक्‍शन)

गुप्‍तांग के आसपास बार-बार छाले होना

गुप्‍तांग के आसपास छाले यीस्‍ट संक्रमण के कारण होते हैं। ऐसा तब हो सकता है, जब रक्‍त में शर्करा की मात्रा अधिक हो। इस प्रक्रिया में शुगर मूत्र के माध्‍यम से बाहर निकलती है।

लक्षण

  •     लिंग के आसपास अधिक लालिमा होना।
  •     लिंग के आसपास पर सूजन होना।
  •     लिंग के आसपास अथवा शीर्ष पर खुजली होना।
  •     दुर्गंध आना।
  •     गुप्‍तांग और उसके आसपास की त्‍वचा पर दही जैसा पदार्थ नजर आना।
  •     संभोग के दौरान लिंग का सूजना।

मांसपेशियों की क्षति से शक्ति में कमी होना

मांसपेशियों की शक्ति में अनपेक्षित कमी आना शुगर स्‍तर के बढ़ने और डायबिटीज का लक्षण होता है। अगर रक्‍त में शर्करा की मात्रा दिन में लंबे समय तक अधिक बनी रहे, तो शरीर ऊर्जा के लिए वसा और मांसपेशियों का इस्‍तेमाल करने लगता है। वजन कम होने की यह प्रक्रिया टाइप वन डायबिटीज के मरीजों में अधिक देखी जाती है। हालांकि, अगर लंबे समय तक टाइप 2 डायबिटीज का इलाज न करवाया जाए, तो उन्‍हें भी वजन घटने की‍ शिकायत से दो-चार होना पड़ सकता है।

स्‍तंभन दोष (इरेक्टिल डिस्‍फंक्‍शन)

कई विशेषज्ञों का मानना है कि इरेक्टिल डिस्‍फंक्‍शन (संभोग के लिए लिंग में उत्तेजना न आना) डायबिटीज का एक लक्षण हो सकता है। यह समस्‍या तब होती है जब रक्‍त में शुगर की मात्रा काफी समय तक अधिक बनी रहती है। इससे लिंग में पर्याप्‍त मात्रा में रक्‍त संचार नहीं हो पाता है अथवा डायबिटीज के कारण लिंग की नसें क्षतिग्रस्‍त हो जाती हैं।

अगर आपको डायबिटीज का कोई भी लक्षण नजर आए, तो आपको फौरन अपने डॉक्‍टर से मिलना चाहिए। डायबिटीज का इलाज अगर सही समय पर शुरू कर दिया जाए, तो स्‍वास्‍थ्‍य को होने वाली कई जटिलताओं से बचा जा सकता है।

Loading...

Leave a Reply